100+ BEWAFA SHAYARI IN HINDI “HEARTBREAKING SHAYARI” | बेवफा शायरी इन हिंदी दर्द और गम भरी

BEWAFA SHAYARI, बेवफा का मतलब वह होता है जिसने किसी की वफ़ा के बदले वफ़ा नहीं दी| यह पोस्ट उन कठोर दिल बेवफा लोगों है जो किसी के प्यार को समाझे नहीं।
Share your love
5 1 vote
Article Rating

Loading

BEWAFA SHAYARI | BEWAFA SHAYARI IN HINDI MESSAGES | BEWAFA SHAYARI IMAGES | BEWAFAI SHAYARI STATUS

New BEWAFA SHAYARI in Hindi Status

बेवफा शायरी / Bewafa Shayari: हम आज BEWAFA SHAYARI की पोस्ट लाये हैं, बेवफा का मतलब वह होता है जिसने किसी की वफ़ा के बदले वफ़ा नहीं दी| यह पोस्ट उन कठोर दिल बेवफा लोगों  है जो किसी के प्यार को समाझे नहीं।  इस पोस्ट की BEWAFA SHAYARI , BEWAFA  Shayari Messages, BEWAFA  Shayari Images, BEWAFA  Shayari Status के माध्यम से आप अपने अंदर के दर्द को  महसूस कर पाएंगे और किसी को समझा पाएंगे। और आप उन्हें अपने Whatsapp status, Instagram, Facebook पर भी लगा सकते है। अगर आप चाहे तो उन्हें अपने प्यारे दोस्तों को और अपने जानने वालों को भी भेज सकते हैं| यदि आपको यह पोस्ट पसंद आती है तो शेयर जरूर करें।

BEWAFA SHAYARI in Hindi Status | बेवफा शायरी इन हिंदी स्टेटस

BEWAFA SHAYARI52
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

वो बेवफा हमारा इम्तेहा क्या लेगी…
मिलेगी नज़रो से नज़रे तो अपनी नज़रे झुका लेगी…
उसे मेरी कब्र पर दीया मत जलाने देना…
वो नादान है यारो… अपना हाथ जला लेगी.

BEWAFA SHAYARI101
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

बिखरे हुए दिल ने भी उसके लिए फरियाद मांगी,
मेरी साँसों ने भी हर पल उसकी ख़ुशी मांगी,
जाने क्या मोहब्बत थी उस बेवफ़ा में,
कि मैंने आखिरी फरियाद में भी उनकी वफ़ा मांगी।

BEWAFA SHAYARI94
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

ठुकरा के उसने मुझे कहा कि मुस्कुराओ;
मैं हंस दिया सवाल उसकी ख़ुशी का था;
मैंने खोया वो जो मेरा था ही नहीं;
उसने खोया वो जो सिर्फ उसी का था।

BEWAFA SHAYARI87
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

मौत मांगते हैं तो जिन्दगी खफा हो जाती है;
जहर लेते हैं तो वो भी दवा हो जाती है तू ही बता,
ऐ दोस्त क्या करूं जिसे भी चाहा वो बेवफा हो जाती है !!

BEWAFA SHAYARI80
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

मेरी कोई खता तो साबित कर बुरा हूँ तो बुरा साबित कर,
तुझसे प्यार है इतना तू क्या जाने….
चल में बेवफा हूँ तू अपनी वफ़ा साबित कर !!

BEWAFA SHAYARI73
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

ये मोहब्बत के हादसे अक्सर
दिलों को तोड़ देते हैं,
आप मंजिल की बात करते हो
लोग राहों में छोड़ देते हैं।

BEWAFA SHAYARI66
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

फ़र्ज़ था जो मेरा निभा दिया मैंने,
उसने माँगा वो सब दे दिया मैंने,
वो सुनके गैरों की बातें बेवफ़ा हो गयी,
समझ के ख्वाब उसको आखिर भुला दिया मैंने।

BEWAFA SHAYARI59
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

कितने आसान लफ्जों मे
कह गई मुझे,
सिर्फ दिल ही तोड़ा है
कौन-सी जान ले ली तेरी!!

BEWAFA SHAYARI45
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

गलती तुम्हारी नहीं है,
हद से ज्यादा मोहब्बत,
लोगो को बेवफ़ा बना देती है।

BEWAFA SHAYARI38
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

मत रख हमसे वफा की उम्मीद ऐ सनम,
हमने हर दम बेवफाई पायी है,
मत ढूंढ हमारे जिस्म पे जख्म के निशान,
हमने हर चोट दिल पे खायी है।

BEWAFA SHAYARI31
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

इंसानों के कंधे पर इंसान जा रहे हैं,
कफ़न में लिपट कर कुछ अरमान जा रहे हैं,
जिन्हें मिली मोहब्बत में बेवफ़ाई,
वफ़ा की तलाश में वो कब्रिस्तान जा रहे हैं.

BEWAFA SHAYARI24
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

तुझे भूल कर कहीं
मैं मर ना जाऊं…
इस तरह के कुछ वादे थे
उस बेवफा के…

BEWAFA SHAYARI17
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

जिन्दगी में प्यार का पौधा लगाने से पहले,
जमीन परख लेना क्योंकि, हर मिट्टी
की फितरत में, वफ़ा नहीं होती.

BEWAFA SHAYARI10
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

तेरा दिया हुआ जख्म मेरे काम आ गया,
भरी महफिल में मैंने बेवफा कहा,
और सब के लबो पे तेरा नाम आ गया !

BEWAFA SHAYARI3
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

इस मतलबी दुनिया में
इश्क़ सिर्फ दिखावा है,
तुझे भी धोखा मिलेगा ये मेरा दावा है !!

BEWAFA SHAYARI2
BEWAFA SHAYARI IN HINDI

नाजुक लगते थे जो हसीन लोग,
वास्ता पड़ा तो पत्थर के निकले।

BEWAFA SHAYARI9
BEWAFAI SHAYARI IN HINDI

तेरी बेवफाई ने मेरा ये हाल कर दिया है की,
अब मैं नही रोता मुझे देख कर लोग रोते हैं !

BEWAFA SHAYARI16
BEWAFAI SHAYARI IN HINDI

फूल के साथ कांटे भी नसीब होता है.
ख़ुशी के साथ ग़म भी नसीब होता है.
मज़बूरी ही ले डूबती है हर आशिक़ को,
वार्ना ख़ुशी से बेवफा कौन होता है.

BEWAFA SHAYARI23
BEWAFAI SHAYARI IN HINDI

बड़ा अजीब दस्तूर है इस दुनिया का
बेवफाई दिलबर करता है लेकिन…
बदनाम सरेआम मोहब्बत होती है…

BEWAFA SHAYARI30
BEWAFAI SHAYARI IN HINDI

बेवफाओं को बेवफाई का
कुछ इस कदर से शौक होता है कि
उन्होंने कितनों से बेवफाई की
उन्हें याद तक नहीं होता!!

BEWAFA SHAYARI37
BEWAFAI SHAYARI IN HINDI

क्या जानो तुम बेवफाई की हद दोस्तों,
वो हमसे इश्क सीखती रही किसी ओर के लिए।

BEWAFA SHAYARI44
BEWAFAI SHAYARI IN HINDI

बेवजह कोसते रहे हम
उन्हें बेवफा कहकर,
शायद हमारी ही वफ़ा में
कोई कमी रह गयी होगी।

BEWAFA SHAYARI51
BEWAFAI SHAYARI IN HINDI

उसके चेहरे पर इस क़दर नूर था;
कि उसकी याद में रोना भी मंज़ूर था;
बेवफा भी नहीं कह सकते उसको ज़ालिम;
प्यार तो हमने किया है वो तो बेक़सूर था।

BEWAFA SHAYARI58

मुझे गम नहीं तेरी बेवफाई का,
मैं मायूस हूँ बस अपनी वफ़ा से

BEWAFA SHAYARI65

किस-किस को तू खुदा बनाएगी,
किस-किस की तू हसरतें मिटाएगी,
कितने ही परदे डाल ले गुनाहों पे,
बेवफा तू बेवफा ही नजर आएगी !

BEWAFA SHAYARI72

टूटा ये दिल मेरा
उनकी बातों के जोर से,
जब पता चला कि
उसे प्यार है किसी और से।

BEWAFA SHAYARI79

हमें तो कब से पता था की तू बेवफा है !
तुझे चाहा इसलिए कि शायद तेरी फितरत बदल जाये !!

BEWAFA SHAYARI86

दुनिया को दिखाने के लिए हस्ता हूं , लेकिन अंदर ही अंदर
कितना रोता हूं
किसी को अपना दर्द नही दिखता कही लोग प्यार करना न भूल जाए ।

BEWAFA SHAYARI93

वफाओं की बातें की हमने जफ़ाओं के सामने;
ले चले हम चिराग़ हवाओं के सामने;
उठे हैं जब भी हाथ बदली हैं क़िस्मतें;
मजबूर है खुदा भी दुआओं के सामने।

BEWAFA SHAYARI100

महफ़िल ना सही, तन्हाई तो मिलती है;
मिलें ना सही, जुदाई तो मिलती है;
प्यार में कुछ नहीं मिलता;
वफ़ा ना सही, बेवफ़ाई तो मिलती है।

BEWAFA SHAYARI99

कहाँ से लाऊ हुनर उसे मनाने का;
कोई जवाब नहीं था उसके रूठ जाने का;
मोहब्बत में सजा मुझे ही मिलनी थी;
क्यूंकी जुर्म मैंने किया था उससे दिल लगाने का।

BEWAFA SHAYARI92

रात की गहराई आँखों में उतर आई,
कुछ ख्वाब थे और कुछ मेरी तन्हाई,
ये जो पलकों से बह रहे हैं हल्क़े हल्क़े,
कुछ तो मजबूरी थी कुछ तेरी बेवफाई.

BEWAFA SHAYARI85

सब कुछ होते हुए भी इस दिल का दर्द नही जाता
क्युकी किस्मत ने हमे बेवफा बना दिया ।

BEWAFA SHAYARI78

मोहब्बत खूबसूरत होगी… किसी और दुनियाँ में….
इधर तो हम पर जो गुजरी है… हम भी
जानते है….

BEWAFA SHAYARI71

मजबूरी में जब कोई जुदा होता हैं,
जरूरी नहीं की वो बेवफा होता हैं,
देकर वो आपकी आँखों में आँसू,
अकेले में आपसे भी ज्यादा रोता हैं।

BEWAFA SHAYARI64

इतनी मुश्किल भी ना थी
राह मेरी मोहब्बत की,
कुछ ज़माना खिलाफ हुआ
कुछ वो बेवफा हो गए।

BEWAFA SHAYARI57

वफादार और तुम….??
ख्याल अच्छा है
बेवफा और हम…??
इल्जाम भी अच्छा है

BEWAFA SHAYARI49

यू बदलने का अंदाज
जरा हमें भी सिखा दो
जैसे हो गए हो तुम बेवफा
वैसे हमें भी बना दो।

BEWAFA SHAYARI43

हम तो तेरे दिल की महफ़िल सजाने आए थे,
तेरी कसम तुझे अपना बनाने आए थे,
किस बात की सजा दी तुने हमको बेवफा,
हम तो तेरे दर्द को अपना बनाने आए थे।

BEWAFA SHAYARI36

मेरी निगाहों में बहने वाला ये आवारा से अश्क
पूछ रहे है पलकों से तेरी बेवफाई की वजह।

BEWAFA SHAYARI29

मोहब्बत के तराजू में
वफा और बेवफा को तोला तो…
वफा हल्की पड़ गई और
बेवफाई भारी हो गई!!

BEWAFA SHAYARI22

मोहब्बत में अक्सर ऐसा ही होता है
बेवफाई करने वाले हंसते हैं..
और वफा करने वाले रोते हैं…

BEWAFA SHAYARI15

मेरे जज्बातों की कदर
वह बेवफा क्या करेगा
मेरी तरह वह भी
घुट घुट कर मरेगा !

तेरा ख्याल दिल से मिटाया नहीं अभी,
बेवफा मैंने तुझको भुलाया नहीं अभी..!!

BEWAFA SHAYARI8

तेरी बेवफाई का गम तो नहीं,
मगर तू बेवफा है दुःख ये भी कम नहीं !

BEWAFA SHAYARI7

हमको दिल से भी निकाला गया, फिर शहर से भी,
हमको पत्थर से भी मारा गया, और जहर से भी !

BEWAFA SHAYARI14

जो भूल गया उस बेवफा को क्या याद करें
आगे लम्हे बुला रहे हैं
आओ मिलकर उनसे बात करें..!!

BEWAFA SHAYARI21

प्यार में जो तूने मुझे बेवफाई की सजा दी…
मेरी वफाओं का कुसूर क्या था
इतना तो बता दिया होता…

BEWAFA SHAYARI28

वफाएं करने वालों को
जमाने में कुछ नहीं मिलता
बेवफाई करने वालों को देखो
बड़े खुशहाल रहते हैं!!

BEWAFA SHAYARI35

नादान था जो वफ़ा को तलाश करता रहा ग़ालिब,
यह न सोचा के एक दिन अपनी साँस भी बेवफा हो जाएगी.

BEWAFA SHAYARI42

आज हम उनको बेवफा बताकर आए हैं,
उनके खतो को पानी में बहाकर आए हैं,
कोई निकाल न ले उन्हें पानी से..
इस लिए पानी में भी आग लगा कर आए हैं।

FAQ’s

बेवफा शायरी क्या है?

बेवफा शायरी एक ऐसी कविता है जो दो लोगों के बीच टूटे हुए रिश्तों को व्यक्त करती है। इसमें आमतौर पर दोस्ती, प्यार, इश्क, अलविदा, तन्हाई और अधिक जैसे विषय होते हैं।

See also  100+ LOVE SHAYARI IN HINDI | LOVE SHAYARI 2 LINE | लव शायरी इन हिंदी

बेवफा शायरी का इतिहास क्या है?

बेवफा शायरी का इतिहास बहुत पुराना है। यह शायरी का एक विशेष प्रकार है जो भारतीय संस्कृति और साहित्य में बहुत महत्वपूर्ण है। इसकी शुरुआत ग़ज़ल, नज़्म और दोहे जैसी विभिन्न रचनाओं से हुई।

बेवफा शायरी के विभिन्न प्रकार कौन से हैं?

बेवफा शायरी के विभिन्न प्रकार होते हैं जैसे कि ग़ज़ल, नज़्म, दोहे, शेर, शायराना अंदाज़ और अधिक।

बेवफा शायरी के लिए विषय क्या होते हैं?

बेवफा शायरी के लिए विषय आमतौर पर दोस्ती, प्यार, इश्क, अलविदा, तन्हाई, खुशी, दर्द, अफसाने, यादें और अधिक जैसे विषय होते हैं।

 “बेवफा” का अर्थ क्या होता है और इसका “बेवफा शायरी” से क्या संबंध होता है?

“बेवफा” शब्द का अर्थ होता है कि वह व्यक्ति जो अपने रिश्ते में वफादार नहीं होता है। बेवफा शायरी एक ऐसी कविता है जो टूटे हुए रिश्तों को व्यक्त करती है। इसमें आमतौर पर दोस्ती, प्यार, इश्क, अलविदा, तन्हाई और अधिक जैसे विषय होते हैं। बेवफा शायरी उन लोगों के लिए होती है जो टूटे हुए रिश्तों के दर्द को व्यक्त करना चाहते हैं। इसका उपयोग अक्सर विभिन्न अवसरों पर जैसे कि दोस्ती, प्यार, इश्क, अलविदा, तन्हाई और अधिक के दौरान किया जाता है।

“सनम बेवफा” का अर्थ क्या है और इसका “बेवफा शायरी” से क्या संबंध है?

SANAM BEWAFA

सनम बेवफा” एक हिंदी फिल्म है जो 1991 में सावन कुमार टाक द्वारा निर्देशित और उत्पादित की गई थी। इसमें सलमान खान, चांदनी, प्राण, डैनी डेन्जोंगपा जैसे कलाकार हैं। यह पाकिस्तानी फिल्म “हक़ मेहर” का रीमेक है। “सनम बेवफा” शब्द का अर्थ होता है “वफादार नहीं”। इस फिल्म में दो पठान जातियों के परिवारों के बीच झगड़ा होता है। सलमान खान शेर खान के बेटे हैं, जो फतेह खान की बेटी रुखसार से प्यार करते हैं। इस फिल्म में बेवफाई के विषय पर ध्यान केंद्रित किया गया है।

See also  100+ BIRTHDAY SHAYARI in Hindi | बर्थडे शायरी इन हिंदी
5 1 vote
Article Rating
Share your love
5 1 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x